Sidebar Menu

मनोज कुलकर्णी

लेखक - देश के जाने माने साहित्यकार और जनवादी लेखक संघ मध्यप्रदेश के राज्य महासचिव है

अंधेरे में उम्मीद

  • Jul 29, 2019

भारतीयता के मायने बदल दिये गये हैं। ‘वसुधैव कुटुम्बकम’ जैसे उदात्त मूल्य को भी नष्ट कर दिया गया है। समाज में भले लोग अन्याय का शिकार हो रहे हैं।

Read More

किताबें कुछ कहना चाहती हैं, तुम्हारे साथ रहना चाहती हैं।

  • Jan 24, 2019

अंतर्राष्ट्रीय पुस्तक मेले में। प्रगति-मैदान जाने का भी वह पहला मौका था। वास्तुकार चाल्र्स कोरिया की रचित त्रिकोणीय भवनों और किताबों के जखीरे को देख अभिभूत था

Read More